भारत के विरोध पाकिस्तान और चीन का बड़ा कदम।


Protests against India Pakistan and Chinas big step.

भारत के विरोध के बावजूद संप्रभुता और क्षेत्रीय अखंडता के मुद्दों पर पाकिस्तान और चीन अफगानिस्तान में सीपीईसी विस्तार योजना पर आगे बढ़ेंगे। यह योजना प्राचीन व्यापार मार्गों को फिर से एक्टिव करने का है। तो वहीं भारत ने 60 अरब अमरीकी डालर की इस परियोजना का विरोध किया है। चीनी विदेश मंत्रालय के अनुसार अफगानिस्तान की विदेशी वित्तीय संपत्तियों को मुक्त करा कर अफगानिस्तान को निरंतर सहायता प्रदान करने के लिए यह योजना बनाई गई हैं।

BharatiyaRecipes back to top image Add DM to Home Screen