अलग वार्ड में भर्ती करें डेंगू-स्वाइन फ्लू के मरीज : ब्रजेश पाठक


Admitted to separate wards, patients with dengue-swine flu: Brajesh Pathak

डेंगू या बुखार के मरीज ज्यादा आने पर अस्पतालों में बेड की संख्या बढ़ाएं जाने के बात कही। पाठक ने कहा कि स्वाइन फ्लू से बचाव के लिए अस्पतालों में वैक्सीन आ गई है। जल्द सभी डॉक्टर-कर्मचारियों को वैक्सीन लगाई जाए, ताकि वे मरीजों के इलाज में किसी भी तरह घबरायें नहीं। बुखार की आशंका में आने वाले मरीजों की जांच कराई। डेंगू और मलेरिया जांच की संख्या बढ़ाई जाए।

BharatiyaRecipes back to top image Add DM to Home Screen